इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

प्रचार खिडकी

शुक्रवार, 20 फ़रवरी 2009

क्या ब्लॉग्गिंग भी क़ानून के दायरे में आयेगा ?

क्या ब्लॉग्गिंग भी क़ानून के दायरे में आयेगा ?
हाँ, हाँ, मुझे पता है कि आप सोच रहे होंगे कि लो झा जी फ़िर कहीं से उडती उडती ख़बर ले कर आ गए। अरे नहीं हुजूर मेरी इतनी हिम्मत कहाँ कि ब्लॉग्गिंग के बारे में कुछ भी anaap शनाप कहूँ, आख़िर मैं वो तो हूँ नहीं कि जो भी मन में आए उगल दूँ। खैर छोडिये, दरअसल सुना है कि सरकार ब्लॉग्गिंग को लेकर कुछ क़ानून बनाने जा रही है। हालाँकि मुझे अभी ये नहीं पता कि दरअसल वो ब्लॉग्गिंग से कमाई करने वालों पर किसी तरह का आर्थिक बोझ या टाक्स लगाने के संबंद में है कि इसके पत्रकारिता और मुखरित होते मिजाज को कसने की तैयारी है। मगर कुछ न कुछ तो जरूर है, वैसे सूना है सरकार ने इसमें सिर्फ़ बड़े (अजी साईज से नहीं, अपने उड़नतश्तरी जी सुरक्षित हैं ) ब्लोग्गेर्स को घेरने की तैयारी की है। वैसे मैं तो सोच रहा हूँ कि यदि कोई क़ानून वानूं बना तो उसका दरोगा कौन होगा, और न्यायाधीश कौन होंगे, वैसे इतना तो पक्का है कि वकील तो अपने दिनेश भाई होंगे ही, अजी उनका खम्भा जो मजबूत है।
चलिए ये तो वक्त ही बताएगा कि ब्लॉग्गिंग के क़ानून में क्या क्या होगा, वैसे मेरी तो इच्छा है कि किसी न किसी बहने से मैं इसकी गिरफ्त में आ ही जाऊं। बस अब तो यही एक रास्ता बचा है फैमस होने का....

सोना हुआ महँगा, चलो जागा जाए शायद सस्ता हो जाए :-

जैसे ही मैंने ये ख़बर सूनी कि सोना महँगा हो रहा है उसी पल मैंने फैसला कर लिए कि अब ज्यादा सोना बंद, अब तो रात रात भर जाग कर टी वी देखूंगा, (आप सोच रहे होंगे कि ब्लॉग्गिंग क्यों नहीं , अजी कैफे में बैठ कर ब्लॉग्गिंग करता हूँ अपना कंप्यूटर नहीं है न ) मगर घर का बजट ठीक करना है तो सोना कम करना ही पडेगा। फ़िर पता चला कि सोना वो सोना नहीं था बल्कि सोना तो सोने वाला सोना था ,मगर अचानक सुना कि देश के सारे वीर सैनिक और शहीदों के आश्रित लोग इंडिया गीत पर इक्कट्ठे होकर सारे सोने चांदी के तमगे वापिस कर रहे हैं। मैं तुंरत समझ गया कि अब तो सोना सस्ता हो ही जायेगा, आख़िर सोना सस्ता करने के लिए सरकार ने अपने सैनिकों से मदद माँगी और उन्होंने हमेशा की तरह दे दी.

3 टिप्‍पणियां:

  1. चलिए अपुन बनाते है हा हा
    सोना आखिर सोना है ..क्या कहें कुछ दिनों में देखने की चीज हो जायेगी भैय्या

    उत्तर देंहटाएं
  2. जागते रहो-सोना मँहगा है!! जय हो!!

    उत्तर देंहटाएं
  3. aap dono ka bhaut bahut dhanyavaad, padhne aur saraahne ke liye bhee.

    उत्तर देंहटाएं

टोकरी में जो भी होता है...उसे उडेलता रहता हूँ..मगर उसे यहाँ उडेलने के बाद उम्मीद रहती है कि....आपकी अनमोल टिप्पणियों से उसे भर ही लूँगा...मेरी उम्मीद ठीक है न.....

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

Google+ Followers