इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

प्रचार खिडकी

शुक्रवार, 1 जनवरी 2010



हे नूतन वर्ष ! अभिनंदन ॥

एक ही नज़ारा है चहुं ओर,
काली रात है , काली भोर,
व्यर्थ मचा हुआ है शोर ,
अब तुम आना बन शीतल चंदन ॥

हे नूतन वर्ष ! अभिनंदन ॥


बहुत हुई ये आपाधापी,
कितने बढ गए हैं पापी,
गुण लघु, अवगुण व्यापी,
बस अब न सुनूं कोई क्रंदन ॥


हे नूतन वर्ष ! अभिनंदन ॥


निज भू को हर मन डोले,
हर क्षण,हर लब बस ये बोले,
धरा अब तक लिया हमने , अब तू लेले,
कि चहक उठे हर नंदन कानन ॥

हे नूतन वर्ष ! अभिनंदन ॥


कितना अकेला इंसान हुआ,
जबकि मानव से भरी धरा ,
बस बहुत हुआ , और बहुत सहा,
अब हंसे बुढापा और मुस्काए बचपन ॥


हे नूतन वर्ष ! अभिनंदन ॥



देखते देखते एक नया वर्ष फ़िर हमारे सामने बांहे पसारे खडा है ये एहसास दिलाने के लिए कि फ़िर समय का कोरा पन्ना खुल गया , आईये उस पर एक नई इबारत , एक नया इतिहास लिखें । आप सभी को , और अपने इस हिंदी ब्लोग परिवार को नव वर्ष के शुभआगमन पर बहुत बहुत बधाई और शुभकामनाएं । इस साल के बहुत सारे सपने देखें /बुने हैं और इश्वर की दया और आपके साथ से उसे पूरा करने की पूरी कोशिश की जाएगी । जब ये साल खत्म होगा और हम पीछे मुड के देखेंगे तो हमें एक सुखद अनुभूति हो , यही प्रयास रहेगा । एक बार फ़िर आप सबको बधाई और शुभकामना ॥

झा जी कहिन को आप सबने बहुत प्यार दिया और दे रहे हैं तो आज इस नए साल से अब झा जी सुनिन भी आपके लिए ले कर आ रहा हूं , उम्मीद है कि उसका स्वाद भी आपको भाएगा ॥

11 टिप्‍पणियां:

  1. सुन्दर रचना
    नववर्ष की हार्दिक बधाई और शुभकामनाये

    उत्तर देंहटाएं
  2. नववर्ष की आपको ढेरो शुभकामनाये !

    उत्तर देंहटाएं
  3. सुन्दर रचना
    आप को ओर आप के परिवार को नववर्ष की बहुत बधाई एवं अनेक शुभकामनाए

    उत्तर देंहटाएं
  4. बहुत बढ़िया अभिनन्दन किया. झा जी सुनिन का स्वागत!!



    वर्ष २०१० मे हर माह एक नया हिंदी चिट्ठा किसी नए व्यक्ति से भी शुरू करवाने का संकल्प लें और हिंदी चिट्ठों की संख्या बढ़ाने और विविधता प्रदान करने में योगदान करें।

    - यही हिंदी चिट्ठाजगत और हिन्दी की सच्ची सेवा है।-

    नववर्ष की बहुत बधाई एवं अनेक शुभकामनाएँ!

    समीर लाल

    उत्तर देंहटाएं
  5. बहुत अच्छी रचना।
    आपको नव वर्ष 2010 की हार्दिक शुभकामनाएं।

    उत्तर देंहटाएं
  6. नववर्ष का सुंदर अभिनंदन!
    नववर्ष की बहुत बहुत शुभकामनाएँ!
    नया वर्ष आप के जीवन में नयी खुशियाँ लाए!

    उत्तर देंहटाएं
  7. नव वर्ष की आपको बहुत बहुत शुभकामनाएं |

    उत्तर देंहटाएं
  8. बहुत सुंदर और उत्तम भाव लिए हुए.... खूबसूरत रचना......

    Sanjay kumar
    http://sanjaybhaskar.blogspot.com

    उत्तर देंहटाएं
  9. बहुत बढ़िया अभिनन्दन किया. झा जी

    उत्तर देंहटाएं

टोकरी में जो भी होता है...उसे उडेलता रहता हूँ..मगर उसे यहाँ उडेलने के बाद उम्मीद रहती है कि....आपकी अनमोल टिप्पणियों से उसे भर ही लूँगा...मेरी उम्मीद ठीक है न.....

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

Google+ Followers