इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

प्रचार खिडकी

गुरुवार, 5 जून 2008

शुक्र है ,उन्हें हिन्दी नहीं आती

अभी तक जहाँ तहां ब्लॉग के बारे में जो भी अनाप शनाप पढ़ते आ रहे थे, अरे घबराइये नहीं हम लोगों के बारे में कौन कमबख्त अनाप शानाप लिख सकता है ख़ुद हम लोगों के अलावा, वो तो मैं उन फिल्मी अभिनेताओं के बारे में कह रहा था जो सब यकायक इस ब्लोग्गिंग के क्षेत्र, अरे नहीं, कारोबार में कूद पड़े हैं, और लिख भी क्या कमाल रहे हैं, कोई अपने जिगरी दोस्त को खुलेआम गलिया रहा है तो कोई इससे भी बढ़कर अपने कुत्ते बिल्ली का नाम अपने साथी कलाकारों के नाम पर रख कर उसे हमें बड़े ही आदर सत्कार से पढ़वा रहा है, जिसे इन दिनों मीडिया ब्लॉग वार का नाम दे रहा है , अजी हमारी समझ से तो ये सब छिछोरापन है । खैर , मैं तो आज उस बात को छेड़ ही नहीं रहा हूँ । दरअसल ख़बर तो असली ये है कि,

सावधान , ब्लॉगजगत वालों इस बार अभिनेता के साथ एक नेता जी भी ब्लॉग लेकर आ रहे हैं। जी हाँ नेताओं के नेता , श्री श्री लालू जी यादव महाराज अपनी ब्लॉग एक्सप्रेस लेकर जल्दी ही प्रकट होंगे। उन्होंने बताया है कि ई सब ओ अमेरीकी चुनाव के नेता बराक ओबामा से प्रेरित होकर कर रहे हैं। वैसे असली बात तो ये है कि उनका कहना है कि शायद इसी बहाने वे हिलारी क्लिंटन को अपनी पार्टी में आने के लिए मन लें। जाहिर है अमेरीकी राष्ट्रपती का चुनाव हारने के बाद ही। लेकिन, जी हाँ, लेकिन हमें घबराने की जरूरत नहीं है क्योंकि, श्री अमिताभ बच्चन, आमिर खान, सलमान खान और सारे खान और हीरे मोत्तियों की तरह उन्हें भी हिन्दी नहीं आती। क्या कहा , उन्हें तो अंग्रेज़ी नहीं आती , अरे कौन कहता है , आने को तो इन सभी अंग्रेज़ हिन्दुस्तानियों को हिन्दी आती है , पर अपनी भाषा में लिख कर बोल कर , पढ़ कर आख़िर उन्होंने अपनी इज्ज़त का फालूदा थोड़ी बनवाना है।

वैसे तो अच्छा है कि इन सभी महान लोगों को हिन्दी से खुजली हो जाती है, वरना सोचिये यदि वे यहाँ पर आकर अपने चटखारे दार किस्से , मिर्च मसाले लगा कर आपको सुनाते तो क्या आप कभी इस रद्दी की टोकरी की तरफ़ अपने नज़रे इनायत करते, नहीं न...........

4 टिप्‍पणियां:

  1. सही कह रहे हो भाई। पूरा इत्तेफ़ाक रखता हूँ मैं आपसे।

    उत्तर देंहटाएं
  2. सहमत तो हम भी है आपसे.
    बच गए हम सब.
    कल आपने कहा था की ब्लॉग का नाम बदल रहें है पर ब्लोग्वानी पर तो पुराना नाम ही दिखा रहा है.
    आपके ब्लॉग पर आने के बाद नया नाम दिखाई देता है.

    उत्तर देंहटाएं
  3. सही है जी. हमारे ब्लॉग की लूटिया भी डुबा देते ये सब. :)

    उत्तर देंहटाएं
  4. chalo achha hai ki aap sab bhee yahee soch rahe hain,haan bal kishan bhai mujhe bhee yahee baat dikhee hai , magar yaar kya karoon ye apne bas kee baat nahin hai.

    उत्तर देंहटाएं

टोकरी में जो भी होता है...उसे उडेलता रहता हूँ..मगर उसे यहाँ उडेलने के बाद उम्मीद रहती है कि....आपकी अनमोल टिप्पणियों से उसे भर ही लूँगा...मेरी उम्मीद ठीक है न.....

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

Google+ Followers