इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

प्रचार खिडकी

बुधवार, 21 अप्रैल 2010

कोई नया मुद्दा दीजिए प्लीज : आज हरिभूमि में प्रकाशित मेरा व्यंग्य

                                               व्यंग्य को बडा करके पढने के लिए उस पर चटका लगाएं                                                                  औन लाईन पढना चाहते हों तो इस लिंक पर क्लिक करके पढ सकते हैं ।

17 टिप्‍पणियां:

  1. आम जनता को तो जानो अकिल ही नहीं है..उ का मुद्दा जनायेंगे. आपे विचार करके गढ़ लिजिये न..आप तो मीडिया वाले है ही!!

    उत्तर देंहटाएं
  2. इस देश के मिडिया की सड़ चुकी हालत का एकदम सटीक चित्रण / धन्यवाद ऐसा सोचने के लिए /

    उत्तर देंहटाएं
  3. सही है मुद्दे की तलाश तो की ही जानी चाहिए नहीं तो टीआरपी गिर गई तो ठीकरा किसके सिर पर फोड़ेंगे इससे तो अपना ही सिर फोड़ लेंगे।

    उत्तर देंहटाएं
  4. अन्कल छा गये ब्लोग वाणी पर नेगेटिव और दो - दो
    कैसे मेनेज करते हो इतने प्यारे लोगो को.

    उत्तर देंहटाएं
  5. आप लोग कुछ भी कहिए सानिया और शोएब , अपने अपने हिस्से का नापसंद चटका लगा गए हैं । और फ़िर भी लोग कहते हैं सेलिब्रिटी हिंदी ब्लोग नहीं देखते पढते , अब तो मिल गया न सबूत ।

    उत्तर देंहटाएं
  6. अजय जी, स्कैन कॉपी पढ़ा नहीं जा रहा है।

    उत्तर देंहटाएं
  7. अवधिया जी इमेज पर क्लिक करने से अलग विंडों में खुलता है वो बडे आराम से पढा जाता है , आप करके देखिए

    उत्तर देंहटाएं
  8. झा जी, राम-राम
    हा हा हा! टी आर पी के लिए कुछ भी करेगा,
    बधाई-रचना प्रकाशन हेतु

    उत्तर देंहटाएं
  9. इमेज पर क्लिक करके दोबारा से इमेज पर क्लिक कीजिए और तब तक क्लिक करते रहिए जब तक बिल्‍कुल ही साफ न पढ़ा जाए। जीत आपकी ही होगी। जुटे रहिए। अजय भैया ऐसे ही तो नहीं कह रहे हैं और हमने भी तो पढ़ा है इसी तरकीबे से।

    उत्तर देंहटाएं
  10. बधाई हो,अल्पना जी सही कह रही है।

    उत्तर देंहटाएं
  11. बहुत बढिया व्‍यंग्‍य है .. भूखमरी , शिक्षा , बीमारी और महंगाई मुद्दा नहीं बन सकती .. मुद्दा तो सनसनीखेज होनी चाहिए .. आपको बहुत बधाई !!

    उत्तर देंहटाएं
  12. लो कर लो बात भारत जेसे महान देश मै भी मुद्दो की कमी है क्या, आई पी एल, सानिया मिर्जा,ललित जी का टंकी पर चढना,रहूल बाबा का सिर्फ़ चुनाव के दिनो मै ही भारत मै गरीब को खोजना, उन की झोपडी मै सोना...अरे बाबा ओर नही तो मुलायम की सीटी को ही मुद्दा बना लो...

    उत्तर देंहटाएं
  13. @ राज भाटिया जी

    आपने खूब कही है

    मुद्दा तो अविनाश वाचस्‍पति और उनकी इंडिका कार तथा रतन टाटा वाला भी कम जोरदार नहीं है। अजय जी और अन्‍य ब्‍लॉगर बंधु इस पर लिखें तो सही ... वैसे चौराहा पर श्री चंडीदत्‍त शुक्‍ल जी ने पोस्‍ट लगाई है।

    उत्तर देंहटाएं
  14. आईये... दो कदम हमारे साथ भी चलिए. आपको भी अच्छा लगेगा. तो चलिए न....

    उत्तर देंहटाएं

टोकरी में जो भी होता है...उसे उडेलता रहता हूँ..मगर उसे यहाँ उडेलने के बाद उम्मीद रहती है कि....आपकी अनमोल टिप्पणियों से उसे भर ही लूँगा...मेरी उम्मीद ठीक है न.....

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

Google+ Followers